50+ Best Congratulations Shayari | Safalta Pe Shayari

congrats shayari

1. पलकों पे आँसुओं को कभी सजाना नहीं चाहिए,
हर ज़ख़्म भरने के लिए दवा नहीं चाहिए,
राहों को मंज़िलों से कभी दूर नहीं कर पाओगे,
मुश्किलों को देख कभी हार मान बैठ जाना नहीं चाहिए!!

2. शाम सूरज को ढलना सिखाती है,
शमा परवाने को जलना सिखाती है,
गिरने वालों को तकलीफ़ तो होती है,
पर ठोकर ही इंसान को चलना सिखाती है!!

3. तारों में अकेला चाँद जगमगाता है
मुश्किलों में अकेला इंसान डगमगाता है
काटों से घबराना मत मेरे दोस्त
क्योंकि काटों में ही अकेला गुलाब मुस्कुराता है

4. ज़िन्दगी हसीं है ज़िन्दगी से प्यार करो
हो रात तो सुबह का इंतज़ार करो
वो पल भी आएगा जिस पल का इंतज़ार है आपको
बस खुदा पे भरोसा और वक़्त पे ऐतबार करो

5. बेहतर से बेहतर कि तलाश करो
मिल जाये नदी तो समंदर कि तलाश करो
टूट जाता है शीशा पत्थर कि चोट से
टूट जाये पत्थर ऐसा शीशा तलाश करो

6. परिंदो को मिलेगी मंज़िल एक दिन
ये फैले हुए उनके पर बोलते है
और वही लोग रहते है खामोश अक्सर
ज़माने में जिनके हुनर बोलते है

We bring a collection of beautiful new year Hindi shayari with beautiful wallpaper. You can use these status as your DP profile or share with your friends and family members on social media.
Happy New Year DP Shayari -2020
Happy New Year DP Shayari -2020
Price: Free

7. परेशानियों से भागना आसान होता है
हर मुश्किल ज़िन्दगी में एक इम्तिहान होता है
हिम्मत हारने वाले को कुछ नहीं मिलता ज़िंदगी में
और मुश्किलों से लड़ने वाले के क़दमों में ही तो जहाँ होता है

8. ज़िंदगी कि असली उड़ान बाकी है
जिंदगी के कई इम्तेहान अभी बाकी है
अभी तो नापी है मुट्ठी भर ज़मीन हमने
अभी तो सारा आसमान बाकी है

9. बुलंद हो होंसला तो मुठी में हर मुकाम है,
मुश्किले और मुसीबते तो ज़िंदगी में आम है,
ज़िंदा हो तो ताकत रखो बाज़ुओ में लहरो के खिलाफ तैरने कि,
क्योकि लहरो के साथ बहना तो लाशो का काम है!!

10. मंजिल उन्ही को मिलती है जिनके सपनो में जान होती है,
पंखो से कुछ नहीं होता हौसलों से ही उड़ान होती है!!

11. मंजिल मिले ना मिले ये तो मुकद्दर की बात है,
हम कोशिश भी ना करें ये तो गलत बात है!!

12. हौंसला मत हार,
गिरकर ऐ मुसाफिर!,
अगर दर्द यहाँ मिला है,
तो दवा भी यहीं मिलेगी!!

13. मेरी मंज़िल मेरे करीब है,
इसका मुझे एहसास है, गुमान नहीं मुझे इरादों पर अपने,
ये मेरी सोच और हौंसलों का विश्वास है!!

14. वही है जिन्दा, जिसकी आस जिन्दा है,
वही है जिन्दा, जिसकी प्यास जिन्दा है,
श्वास लेने का नाम ही जिंदगी नहीं,
जिन्दा वही है, जिसका विश्वास जिन्दा है!!

15. अंदाज़ कुछ अलग ही मेरे सोचने का है,
सब को मंज़िल का है शौख, मुझे रास्ते का है!!

=============

Mehnat ke baad hi safalta milti hai,
Safalta ke baad hi khushiyan milti hain,
Mehnat to karta hai har koi,
Par jo kathin mehnat kare, asli khushiyan use hi milti hain.

Aapki kaamyabi ka hum bhi jashn manayenge,
Aapke har sapno ko hum bhi dil se lagayenge,
Aap chahe kuch bhi kahein,
Hum to aaz raat bhar jhoomenge, gaayenge.

Aapke saath aaj hame bhi khushiyan manane ko dil chahta hai,
Aapki khushiyon ke jashn mein aaj doob jaane ko dil chahta hai.
Jaane kya baat hai aaj ke din mein,
Aapko gale se lagakar badhai dene ko dil chahta hai.

Kaamyabi milti hai unhe jo apni lagan ke diwane hote hain,
Safal hote hain wahi jo safalta ke haqdar hote hain,
Kehne ko to badta hai har koi manzil ki or,
Lekin paate hain manzil wahi, jo manzil ke asli haqdar hote hain.

Badhai ho Badhai ho, Aapne ye kaam kar dikhaya, Aapne saabit kar diya ki aap kitne mehnati hain.

Hame naaz hai ki hmare paas aap jaisa dost hai, jisne aaj apne jeevan mein itni badi safalta haasil ki. Aapki is kaamyabi ke liye hum aapko dil se badhai dete hain.

Is Kaamyabi ke liye aapko laakh laakh badhaiyan, aapne aaj khud ko saabit karke dikha diya.

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *